राज्यसभा में मर्यादा भूले 8 विपक्षी सांसद, संजय सिंह और डेरेक ओ ब्रायन समेत स्पीकर ने सभी को किया सस्पेंड

0
166
social media
social media

ससंद के मानसून सत्र में इन दिनों कृषि विधेयक पर भारी हंगामा देखने को मिल रहा है। मोदी सरकार ने संसद में तीन कृषि बिलों का प्रस्ताव रखा जो लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में पारित हो गया। इस बीच कृषि विधेयक पर विपक्ष ने दोनों सदनों में भारी हंगामा खड़ा किया था। गौरतलब है कि रविवार को राज्यसभा में बिल के विरोध में वेल में आकर हंगामा किया गया और रूल बुक को भी फाड़ने का प्रयास किया गया। कुछ विपक्षी सांसदों के ऐसा करने पर कड़ी कार्रवाई हुई है।

बता दें कि उच्च सदन राज्य सभा स्पीकर वेंकैया नायडू ने सदन में हंगामा करने वाले विपक्ष के आठ सांसदों को संस्पेंड कर दिया। इसमें पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन और आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह और कांग्रेस के राजीव साटव को सात दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया है।

image source- social media

8 सांसदों को किया गया निलंबित

सदन की गरिमा को ठेस पहुंचाने और सदन में दुर्व्यवहार करने के चलते टीएमसी के डेरेक ओ ब्रायन और डोला सेन को निलंबित किया गया है। वहीं, सैयद नासिर हुसैन, सीपीआई (एम) सांसद केके रागेश, एल्मालारान करीम, आप पार्टी के संजय सिंह और कांग्रेस के राजीव साटव को सस्पेंड कर दिया है। उच्च सदन में ऐसा पहली बार देखने को मिला है।

image source- social media

इस बिल पर हुआ हंगामा

बता दें कि सदन में कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सुविधा) विधेयक-2020 और कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता एवं कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 विधेयक हंगामे की वजह बना। लोकसभा में पहले ही इन बिलों पर बहुमत मिल चुका है।

image source- social media

विपक्ष का नोटिस खारिज

बता दें कि विपक्ष ने राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था, लेकिन राज्यसभा अध्यक्ष वेंकैया नायडू ने इस खारिज कर दिया। गौरतल है कि उच्च सदन में आज तीन महत्वपूर्ण बिल भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कानून संस्थान (संशोधन) विधेयक 2020, आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक 2020 और बैंकिंग विनियमन (संशोधन) विधेयक 2020 पेश किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here