कोरोना ग्रस्त लड़कियों का रेप करने वालों को अपनी जान का डर क्यों नहीं लगता?

0
384
sexual-harassment-during-covid-19-with-corona-patient

देश में कोरोना महामारी के मामले तेजी से रफ्तार पकड़ रहे हैं। ऐसे हालातों में देश की आर्थिक और स्वास्थ्य व्यवस्था दोनों ही वेंटीलेटर पर आ गई है। स्वास्थ्य कर्मी लगातार लोगों से 2 गज की दूरी बनाने की अपील कर रहे है। इसके बावजूद इन हालातों में भी विकृत मानसिकता के लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे और रेप जैसे मामलों को बढ़ावा दे रहे हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों से रेप के अलग-अलग मामले सामने आए हैं। हवस के इन भूखे लोगों को मौत से ज्यादा अपनी शारीरिक भूख की पड़ी हैं।

सांकेतिक तस्वीर

साल 2020 में जुलाई महीने में दिल्ली के छतरपुर में बने 10 हजार बेड के कोविड सेंटर पर 15 जुलाई की रात एक 14 साल की नाबलिग कोरोना संक्रमित लड़की के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया था। 19 साल के कोविड संक्रमित शख्स ने बाथरूम के अंदर नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। आरोपी का एक साथी भी मौके पर मौजूद था, जिसने इस पूरी वारदात का मोबाइल में वीडियो बनाया था। लड़की ने जब अपने घरवालों को इसकी जानकारी दी, तो घरवालों ने पुलिस को सूचना दी। बाद में इस मामले पर कार्रवाई शुरू की गई और आरोपियो को गिरफ्तार किया गया।

सांकेतिक तस्वीर

बीते साल सितंबर महीने में केरल के पथनममिट्टा के समीप एंबुलेंस चालक द्वारा 19 साल की एक कोविड-19 मरीज से रेप का मामला सामने आया था। एम्बुलेंस से कोरोना मरीज लड़की को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था। लड़की को अकेले ही रेफर किया गया था। तभी सुनसान जगह पर चालक ने लड़की के साथ रेप Rape in Ambulance जैसी वारदात को अंजाम दिया। इस घटना का संज्ञान लेते हुए राज्य महिला आयोग ने स्वयं ही मामला दर्ज करा पूरे मामले की जांच की थी।

सांकेतिक तस्वीर

इंदौर के ग्वालियर में कोविड अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव लड़की से बलात्कार की कोशिश की गई थी। खबरों के मुताबिक भर्ती की गई एक महिला का इलाज चल रहा था, इसी दौरान एक वार्ड बॉय ने दरिंदगी दिखाते हुए उसे दबोच लिया, वो चिल्‍लाने लगी तो आरोपी भाग गया। वार्ड बॉय अपने नापाक इरादों में कामयाब नहीं हो सका। वहीं मामले के संज्ञान में आने के बाद विवेक लोधी नाम के इस वार्ड बॉय को निकाल दिया गया।

सांकेतिक तस्वीर

गुजरात के राजकोट ज़िले के सिविल अस्पताल में 60 साल की एक महिला ने रेप की शिकायत की थी। महिला का आरोप था कि एक दिन पहले आधी रात को PPE पहने एक व्यक्ति उसके पास आया था, फिर सिर में मसाज देने के बहाने से उसने महिला का रेप किया था। बकौल महिला आरोपी ने PPE किट पहनी थी, इसलिए वह उसे पहचान नहीं सकी। वहींं पुलिस ने मामला दर्ज तफ्तीश से छानबीन की तो 35 साल के एक अटेंडेंट आरोपी निकला। फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार कर मामले की जांच पडताल जारी है।

सांकेतिक तस्वीर

महामारी के दौरान सामने आये ये सभी घिनौने मामले ये साबित करने के लिए काफी है कि इन लोगों को मौत के खौफ से ज्यादा हवस की भूख है। ये तो मजह कुछ ही मामले है जिनके बारे में हमने आपकों बताया है। वहीं कई ऐसे में भी मामले हैं, जो इस दौरान दर्ज ही नहीं किए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here