इस एक गलती की वजह से कंगाल हो गए थें अनुपम खेर, बच गए थे सिर्फ 5000 रुपए

0
103

बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में कुछ ऐसे कलाकार रहें हैं जिन्होंने अपने अभिनय के दम पर बहुत ऊंचा मुकाम हासिल किया हैं ऐसे ही कलाकारों में से एक हैं अनुपम खेर। अनुपम खेर साहब को शायद ही कोई ऐसा होगा जो नहीं जानता होगा, अपनी बेहतरीन अदाकारी की वजह से इन्होंने बहुत सी फिल्मों में जान फूंकी हैं। आज हम आपको अनुपम खेर से जुड़ा एक किस्सा बताने जा रहें हैं जब वो लगभग कंगाल हो चुके थे और एक वो किस्सा भी जब उन्होंने गुस्से में महेश भट्ट को डांट दिया था।

Anupam Kher

अनुपम खेर को फिल्म इंडस्ट्री में काम करते हुए 36 साल से भी अधिक समय हो चुका हैं उनके द्वारा निभाया गया हर किरदार जानदार होता हैं लेकिन कहते हैं ना कि गलती किसी से भी हो सकती हैं और ऐसा ही हुआ अनुपम खेर साहब के साथ। वर्ष 2005 की बात हैं उन्होंने अपने खुद के प्रोडक्शन हाउस से एक फिल्म बनाने का फैसला किया।

फिल्म बनाने के बाद उन्हें एक-एक पैसे के लिए मोहताज होना पड़ा था, वो लगभग कंगाल हो गए थे और उनके पास केवल 5000 रुपए ही बचे थे। ऐसी परिस्थिति के बाद उन्होंने सोचा कि जिंदगी को चलाने के लिए पैसों की जरूरत होती हैं तो उन्हें कुछ ऐसा करना होगा जिससे उनकी आय होती रहें। इसके लिए उन्होंने एक नाटक किया जिसका नाम ‘कुछ भी हो सकता हैं’, इस नाटक के बाद ही उनकी आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर होने लगी थी।

Anupam Kher

1984 में महेश भट्ट द्वारा निर्देशित फिल्म ‘सारांश’ में अनुपम खेर ने अपनी उम्र से बड़े व्यक्ति का किरदार निभाया था, फिल्म के समय अनुपम खेर की उम्र महज 28 वर्ष थी लेकिन फिल्म में उन्होंने 65 साल के बुजुर्ग पिता का किरदार निभाकर सभी को अपना फैन बना लिया था। इसी फिल्म में उनके दमदार किरदार के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला था।

अपने अनुभव सोशल मीडिया पर साझा करते हुए अनुपम खेर ने बताया कि फिल्म सारांश की शूटिंग के शुरू होने से पहले उन्हें इस बात की जानकारी मिली कि उनकी जगह फिल्म में संजीव कुमार को कास्ट कर लिया गया हैं। इस घटना से अनुपम खेर काफी आहत हुए थे और जब उन्होंने महेश भट्ट को फोन करके इस बारें में पूछा तो उन्हें बताया गया कि फिल्म में किसी प्रसिद्ध कलाकार को लेना था इसलिए संजीव कुमार को कास्ट कर लिया गया हैं।

इसके बाद अनुपम खेर का गुस्सा और बढ़ गया था और वो महेश भट्ट के घर पहुंच गए, वहां पहुंच कर उन्होंने महेश भट्ट को बहुत सुनाया, यहां तक कि उन्होंने महेश भट्ट को झूठा और फ्रॉड तक कह दिया था। इतना सब होने के बाद महेश भट्ट को अपनी भूल का एहसास हो चुका था और फिर उन्होंने आखिरकार अनुपम खेर को फिल्म में वो रोल निभाने के लिए चुन लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here