कांग्रेस पार्टी में नहीं होता महिलाओं का सम्मान, इस लिए कांग्रेस छोड़ शिवसेना को चुना- प्रियंका चतुर्वेदी

0
792
priynaka Chaturvedi resigns From Congress

महिलाओं के साथ बदसलूकी करने वाले नेताओं को पार्टी में तरजीह देने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस नेता (Congress Party) और प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने आज पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को भिजवा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट के बायो से भी कांग्रेस प्रवक्ता (Congress Spoke Person Priyanka Chaturvedi) वाली लाइन हटा ली है।

Image SOurce- Social Media

पिछले कुछ दिनों से नाराज चल रही कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। वह कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता (Priyanka Chaturvedi Ex Spokeperson Of Congress Party) और पार्टी के मीडिया सेल की संयोजक थी। उन्होंने अपना इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress President Rahul Gandhi) को भेज दिया है। कांग्रेस से नाराज चल रही पार्टी प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्वीटर से भी प्रवक्ता की भूमिका को हटा दिया।

आखिर क्या हुआ था प्रियंका चतुर्वेदी के साथ

पिछले साल उत्तर प्रदेश के मथुरा में उनके प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हंगामा करनेवाले पार्टी कार्यकर्ताओं को दोबारा पार्टी के अंदर बहाल करने के फैसले पर प्रियंका ने सार्वजनिक तौर पर आपत्ति जताते हुए इसकी आलोचना की थी।

Image Source- Social Media

प्रियंका चतुर्वेदी ने अपने साथ हुई अभद्रता का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे दुख इस बात का है कि आरोपियों को दोबारा वापस बुला लिया गया। मैंने कांग्रेस को 10 साल दिये। मैंने सब सोच-समझकर ही शिवसेना से जुड़ने का मन बनाया है। जहां भी पार्टी को मजबूत कर सकती हूं, वहां काम करूंगी। मथुरा से टिकट मांगने के सवाल पर प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि मैंने टिकट नहीं मांगा था, बल्कि वहां मेरे मामा का घर है। इस वजह से जुड़ाव है।

Image Source- Social Media

आपको बता दे, उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने प्रियंका चतुर्वेदी की शिकायत के बाद उन पार्टी कार्यकर्ताओँ को निलंबित कर दिया था। लेकिन, खबरों के मुताबिक, कांग्रेस के पश्चिमी यूपी के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया की सिफारिश पर उन सभी निलंबित पार्टी कार्यकर्ताओं को दोबारा बहाल कर दिया गया।

राहुल गाँधी को लिखा इस्तीफ़ा

इससे पहले प्रियंका चतुर्वेदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखकर कहा वह भारी मन से इस्तीफा दे रही हूं। उन्होंने 10 साल तक पार्टी में रहकर पूरी लगन से काम किया है। उन्होंने लिखा, ‘पिछले कुछ दिनों में हुए कुछ खास घटनाओं ने पूरा भरोसा दिला दिया कि संगठन में मेरी सेवाओं का संगठन में कोई मूल्य नहीं है।’

Image Source- Social Media

अब लगता है, जितना समय पार्टी में बिताऊंगी, मेरे आत्मसम्मान की कीमत पर होगा। दुःख इस बात का है, ‘महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान और सशक्तीकरण की जिस बात का पार्टी प्रचार करती है, और आप खुद आह्वान करते हैं, वैसा पार्टी के कुछ सदस्यों के व्यवहार में नज़र नहीं आता।’

कांग्रेस छोड़ शिवसेना को चुना

बुधवार को प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी नेतृत्व पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने पार्टी के लिए खून पसीना बहानेवालों की बजाय उन लोगों को प्राथमिकता दी जो ‘गुंडे’ हैं। प्रियंका ने ट्वीट पर अपनी नाराजगी का इजहार करते हुए लिखा- ‘काफी दुखी हूं ही कांग्रेस पार्टी के अंदर जिन लोगों ने खून पसीने दिए उनकी बजाय गुंडों को प्राथमिकता दी गई।’

कांग्रेस की प्रवक्ता रहीं प्रियंका चतुर्वेदी शिवसेना में शामिल हो गई हैं। उन्होंने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना ज्वाइन की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मैं मुंबई में पली बढ़ी हूं। पिछले कुछ दिनों से मुंबई से कट गई थी, लेकिन अब मैं वापस यहां जुड़ना चाहती हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here