पीएम नरेंद्र मोदी से जुड़ी वो कहानी, जिसमें डायरी लिखकर उसे जला देते थे पीएम

0
644
pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम दुनिया भर की टॉप हस्तियों में शुमार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम की तूती देश ही नहीं दुनिया भर में बोलती है। ऐसे में जाहिर है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जिंदगी से जुड़े कई किस्से ऐसे होंगे, जिनके बारे में लोग नहीं जानते होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हस्ती ऐसी है कि हर कोई उनकी बोलचाल और उनकी कर्म निष्ठा का दीवाना है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जिंदगी से जुड़े हर पहलू को जानना लोगों के लिए किसी दिलचस्प कहानी या किस्से से कम नहीं होता।

आइए आज हम आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जिंदगी के बारे में एक ऐसा किस्सा सुनाएंगे जिसे सुनकर आपको भी बड़ी हैरानी होगी। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डायरी लिखा करते थे, लेकिन हर बार बहुत डायरी के पन्नों को जला दिया करते थेष आखिर नरेंद्र मोदी ऐसा क्यों करते थे आइए जानते हैं…

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

स्कूल के समय से लिखते थे पीएम मोदी डायरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई बार खुद इस बात का जिक्र किया है कि उन्हें स्कूल के दिनों से ही एक्टिंग का बड़ा शौक था। ऐसे में वह ना सिर्फ अभिनय किया करते थे बल्कि उन्हें नाटकों को लिखना भी बड़ा पसंद था। धीरे-धीरे बदलते वक्त के साथ उनकी पसंद भी बदल गई।

अब उन्हें राजनीति में दिलचस्पी आने लगी और उन्होंने आरएसएस का हाथ थाम कर राजनीति की दुनिया में कदम रखा। इस दौरान उनके युवावस्था के कई किस्से काफी दिलचस्प है, जिनमें से एक किस्सा उनकी डायरी से जुड़ा है।

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

डायरी लिखना बेहद पसंद था

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को डायरी में लिखना बेहद पसंद था। डायरी पर अपने हर दिन की उठा-पटक के बारे में लिखा करते थे। अब एक बात बड़ी अजीब थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी हर डायरी को 6 से 8 महीने बाद जला दिया करते थे। अब ऐसे में सवाल उठता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसा क्यों करते थे?

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

लिख कर जला देते थे डायरी

ऐसा नहीं है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐसा एक या दो बार किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्सर यही किया करते थे। डायरी लिखते और फिर उसे छह से 8 महीने में जला दिया करते।

एक बार उनके एक दोस्त ने उन्हें ऐसा करते हुए देख लिया। तब उनके दोस्त नरेंद्र भाई पंचसरा ने उनसे इस बारे में सवाल किया और उन्हें समझाया कि वह ऐसा ना करें।

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

बाकी पन्नों ने लिया डायरी का रूप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोस्त की बात मान ली, जिसके बाद जली हुई डायरी के बाकी बचे पन्नों ने अब एक किताब का रूप ले लिया। इस किताब का नाम था साक्षीभाव

यह किताब 36 साल पहले के नरेंद्र मोदी के विचारों का एक ऐसा संग्रह है, जिसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि यह किताब पाठकों को मुझसे जोड़ने का काम करती है।

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

पीएम मोदी ने कहा कि साक्षीभाव मेरे संवादों का संकलन है। यह पाठक को ना सिर्फ समाचारों में आने वाले मेरे जिक्र से बल्कि उस दौरान के मेरे स्वभाव और मेरे बारे में जाने में भी मदद करेगी।

pm-modi-during-his-younger-days-write-daily-diary-and-burn-it--here-is-pm-modi-diary-top-secret1
social media

साथ ही उन्होंने कहा कि इस किताब में मैंने उस डायरी का भी जिक्र किया है, जिसमें उस दौरान मैं मां दुर्गा के साथ अपने संवाद लिखा करता था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन सुझावों और भावों को कविता के जरिए बयां किया है। ये किताब पीएम के उन पलों का एक झरोखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here