fbpx
Home इंडिया पद्मविभूषण पं. छन्नूलाल मिश्रा की छोटी बेटी ने बहन की मौत के...

पद्मविभूषण पं. छन्नूलाल मिश्रा की छोटी बेटी ने बहन की मौत के बाद PM मोदी से कह दी इतनी बड़ी बात!

0
526

काशी विश्वनाथ की नगरी बनारस को अपना कहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भले ही यहां से सांसदी का पर्चा भरा हो, लेकिन जीत के बाद उन्होंने वहां पलटकर कभी नहीं देखा और ना ही काशी की बदहाली को लेकर कोई चर्चा की। वाराणसी से लोकसभा चुनाव लड़ने के दौरान पद्म विभूषण पंडित छन्नूलाल मिश्रा नरेन्द्र मोदी के प्रस्तावक बने थे,

लेकिन आज वही प्रस्तावक अपनी पत्नी और बेटी के इलाज को लेकर दर-दर अस्पतालों में गुहार लगाते रहे, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। ऐसे में उनकी पत्नी और बेटी दोनों का निधन हो गया।

Social Media

पंडित छन्नूलाल मिश्रा ने कोविड-19 में अपनी पत्नी और बड़ी बेटी दोनों को गवा दिया है। साथ ही उनकी हालत भी खराब बताई जा रही है। बार-बार अपनी पत्नी और बेटी की बीमारी और उनके इलाज को लेकर आवाज उठाने के बावजूद भी ना केंद्र सरकार और ना ही उत्तर प्रदेश सरकार ने उनकी सुध ली। राज्य और केंद्र दोनों ही सरकारों पर उनके हालातों को लेकर जूं तक नहीं रेंगी। पंडित छन्नूलाल मिश्रा की पत्नी के निधन के कुछ समय बाद ही उनकी बेटी का भी देहांत हो गया।

Social Media

बहन के निधन के बाद पंडित छन्नूलाल मिश्रा की छोटी बेटी ने अस्पताल प्रबंधक पर कई गंभीर आरोप लगाए। बेटी का कहना है कि मेरी दीदी अस्पताल में तड़प-तड़प कर मर गई। यह लोग पैसा लेकर डेडबॉडी देते हैं। अब पीएम मोदी ही इंसाफ दिलाएं। वहीं इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि खुद पंडित छन्नूलाल मिश्रा भी बीमार चल रहे।

Social Media

बनारस में पंडित जी की बेटी रो-रो कर अस्पताल प्रशासन के खिलाफ न्याय की गुहार लगा रही है। उन्होंने आरोप लगाया है कि उनकी बड़ी बहन को अस्पताल में तड़पाकर मार डाला गया है। हजारों रुपए के जीवन संरक्षक इंजेक्शन देने के बावजूद भी उनकी मौत हो गई। परिजनों को मिलने तक नहीं दिया गया और ना ही उनकी हालात के बारे में किसी को भी कोई जानकारी दी गई।

Social Media

उन्होंने कहा कि वह बीते कई दिनों से लगातार अपनी बहन के हालत को लेकर अस्पताल प्रशासन से सवाल कर रही थी, लेकिन अस्पताल प्रशासन हर दिन कुछ ना कुछ कह कर बात टाल रहा था।

Social Media

पंडित छन्नूलाल मिश्रा की छोटी बेटी ने अस्पताल प्रशासन और सरकार से गुहार लगाई है कि वह बीते दिनों के सीसीटीवी फुटेज के जरिए दिखाएं कि उनकी बहन की हालत में किस तरह सुधार हो रहा था और अचानक से उनकी मौत कैसे हो गई। साथ ही उन्होंने उन्हें लगाए जाने वाले सभी इंजेक्शन और जांच रिपोर्ट की भी मांग की है। इस दौरान उन्होंने राज्य और केंद्र दोनों ही सरकारों से अस्पताल प्रशासन के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here