बिहार: केंद्रीय मंत्री के बेटे की कार के दस्तावेज नहीं जांचने पर एसआई समेत 3 पुलिसकर्मी निलंबित

0
55
Union minister Ashwini Choubey

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे (Union minister Ashwini Choubey) के बेटे के वाहन के दस्तावेजों की जांच न करने को लेकर रविवार को बिहार पुलिस के दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया। पटना के पुलिस आयुक्त आनंद किशोर ने दोनों पुलिसकर्मियों को अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत के वाहन के दस्तावेजों की जांच न करने पर सहायक उपनिरीक्षक (एएसआई) व कांस्टेबल को ड्यूटी से सस्पेंड कर दिया।

आपको बता दे, वाहन चेकिंग के दौरान रविवार को केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की कार को बिना कार्रवाई के छोड़े जाने पर एसआई समेत तीन पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया। जबकि कुछ ही समय बाद सांसद रामकृपाल यादव की कार में काली फिल्म लगी पाई तो यातायात पुलिस ने एक हजार रुपए जुर्माना लगाया। दोनों नेताओं की गाड़ी में उनके बेटे और परिवार के सदस्य थे।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे (फाइल फोटो)

मीडिया खबरों के अनुसार, पटना के पुलिस आयुक्त आनंद किशोर ने दोनों पुलिसकर्मियों से उस वाहन की जांच करने को कहा था, जिसमें अरिजीत चौबे, उनकी पत्नी व मां यात्रा कर रही थीं। पुलिस ने वाहन को रोका, लेकिन दस्तावेज की जांच नहीं की। किशोर ने एएसआई देवपाल पासवान व कांस्टेबल दिलीप चंद्र के निलंबन का आदेश दिया। आपको बता दे, किशोर खुद वाहन जांच मुहिम की निगरानी कर रहे हैं।

विस्तृत घटनाक्रम

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चाैबे का बेटा और बहू

प्रख्यात मीडिया संसथान NDTV की वेबसाइट पर प्रकाशित खबरों के अनुसार, रविवार को बिहार म्यूजियम के पास सुबह 11 से शाम 5 बजे तक विशेष चेकिंग अभियान चलाया गया। यहां दोपहर एक बजे पुलिस ने केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की गाड़ी को रोका। बताया जा रहा है, गाडी में आगे की सीट पर उनका बेटा और बहू बिना सीट बेल्ट बांधे बैठे थे, जबकि पिछली सीट पर उनकी पत्नी बैठी थीं। पुलिस कार्यबाही के समय मंत्री के बेटे ने गाड़ी को बिहार म्यूजियम के गेट से 100 मीटर आगे रोका। जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की जगह गाड़ी को आधा घंटे तक रोके रखा।

कुछ देर तक पुलिस की कार्रवाई का इंतजार करने के बाद मंत्री का बेटा गाड़ी लेकर चला गया। इसकी जानकारी प्रमंडलीय आयुक्त को हुई तो उन्होंने मौके पर मौजूद एसआई देवपाल पासवान, बीएमपी-2 के सिपाही पप्पू कुमार और जिला पुलिस के सिपाही दिलीप चंद्र सिंह को निलंबित करने का आदेश दिया। इसी दौरान वहां से गुजर रही सांसद रामकृपाल यादव की गाड़ी पर काली फिल्म लगी थी। गाड़ी में सांसद के पुत्र थे। वे भी बिना सीट बेल्ट बांधे बैठे थे। कार्रवाई होती देख अन्य पुलिसकर्मियों ने इस बार गलती नहीं की। सांसद की गाड़ी पर कार्रवाई करते हुए एक हजार रुपए जुर्माना वसूला।

नये ट्रैफिक नियमो के तहत जांच- किशोर

प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर ने बताया कि नए ट्रैफिक नियमों के तहत वाहनों की चेकिंग की जा रही है। किसी को भी ट्रैफिक नियम तोड़ने की छूट नहीं है। जो भी नियम तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। इसमें लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी एक्शन लिया जाएगा। आयुक्त के इस कदम के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। पुलिस अब एक्शन में दिखाई दे रही है, अब देखना ये होगा की आयुक्त साहब का फरमान पुलिस महकमा कब तक मानता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here