fbpx
Home अध्यात्म घर में है लड्डू गोपाल की मूर्ति, तो इन 3 बातों का...

घर में है लड्डू गोपाल की मूर्ति, तो इन 3 बातों का रखें विशेष ध्यान, होगा बड़ा लाभ

0
1824
Laddu gopal Worshin in Home

जन्‍माष्‍टमी (janmashtami) के शुभ अवसर पर बहुत से लोग अपने घरों में लड्डू गोपाल की स्‍थापना करते हैं। घर में भगवान श्रीकृष्ण के बाल रूप लड्डू गोपाल की स्थापना करके उनकी पूजा करते हैं। जन्‍माष्‍टमी के शुभ मुहूर्त पर लड्डू गोपाल का घर में आना शुभ माना जाता है। मान्यता है, कि लड्डू गोपाल घर के मंदिर में स्‍थापित करने से घर में खुशहाली के साथ धन, वैभव और ऐश्‍वर्य की प्राप्ति होती है। अगर आप भी अपने घर में लड्डू गोपाल की स्थापना करना चाहते हैं तो कुछ नियमों के बारे में जरूर जान लें। साथ ही अगर आपके घर में बालगोपाल कृष्‍णजी का स्‍वरूप पहले से ही है तो भी इन नियमों को मानना जरूरी है।

मन भाव में कृष्णा

अगर आप अपने घर में लड्डू गोपाल की स्थापना करना चाहते हैं तो सबसे पहले अपने मन में यह भाव जरूर रखें कि अब से आपके घर का स्वामी आप नहीं बल्कि लड्डू गोपाल हैं। मेरे घर का भाव मन से निकालकर यह भाव लेकर आएं कि अब यह लड्डू गोपालजी का घर है और बाकी लोगों की तरह वह भी घर के सदस्‍य हैं। इसके अलावा लड्डू गोपाल को प्रतिदिन स्नान करवाएं। गर्मी के मौसम में ठंडे पानी से नहलवाएं और सर्दी के मौसम में गर्म पानी से स्नान करवाएं।

कृष्णा भोग का रखे ध्यान

जिस प्रकार घर के बाकी सदस्‍यों को दिन में कई बार भूख लगती है उसी प्रकार से यह मानकर लड्डू गोपालजी को भोग लगाना चाहिए। जिस तरह आप अपने घर के सदस्यों के लिए अलग-अलग वक्त पर खाना तैयार करते हैं। वैसे ही लड्डू गोपाल के लिए भी सुबह का नाश्ता, दोपहर का खाना, शाम की चाय और रात के खाने की व्यवस्था करें। प्रतिदिन सुबह उठकर स्नान करें और सबसे पहले गणेश जी की पूजा करें। गणेश जी को स्नान कराएं और उन्हें वस्त्र अर्पित करें।

गणेशजी के बाद ही बाल गोपाल की पूजा करें। कान्हाजी को साफ जल से स्नान कराएं। इसके बाद पंचामृत से स्नान कराएं। पंचामृत को दूध, दही, घी, शहर और मिश्री से तैयार करें। अगर आप बाल गोपाल को स्नान दक्षिणावर्ती शंख से कराएंगे तो ज्यादा शुभ रहेगा। घर में अगर कुछ भी खाने की चीज लाते हैं तो बाल गोपाल लड्डू के लिए भी जरूर निकाल दें।

घर से बाहर जाने पर

यदि आपको किसी काम से घर से बाहर जाना है तो घर की एक चाभी लड्डू गोपाल को भी सौंपकर जाएं। बालगोपाल को घर में रखने वालों को घर में तामसिक चीजों का प्रयोग एकदम बंद कर देना चाहिए। एक छोटे बालक की भांति लड्डू गोपाल जी के लिए भी समय-समय पर बाजार से खिलौने लेकर आएं और स्‍वयं भी उनके साथ खेलें। हो सके तो लड्डू गोपालजी को अपने साथ समय-समय पर घुमाने भी ले जाएं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here