40 बार असफलता का देखा मुंह, फिर भी कम नहीं हुआ हौंसला, ऐसे UPSC क्लि‍यर कर बने IRS अफसर

0
396
IRS officer avadh kishor pawar failed 40 times in exams before cracking upsc
IRS officer avadh kishor pawar failed 40 times in exams before cracking upsc

नई दिल्ली, आपको हार कितनी बार में हरा सकती है। एक बार, दो बार, तीन बार या ज्यादा से ज्यादा चार बार। इसके बाद आपको लगने लगेगा कि अब कुछ नहीं हो सकता है। बार-बार का मुंह देखने को बाद आगे बढ़ने की चाहत खत्म हो जाया करती हैं। लगता है इतनी बार हार चुके हैं आगे क्या ही जीत हासिल होगी, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। आज हम जिस शख्स के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वो एक, दो, तीन या चार नहीं पूरे 40 वार असफल हो चुके हैं, लेकिन हार नहीं मानी औज आज IRS अफसर हैं।

IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media
IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media

हम बात कर रहे हैं IRS अफरस अवध किशोर पवार की। अवध किशोर पवार ने बड़ी ही मुश्किलों के साथ UPSC की परिक्षा को पास किया है। आपने बारे में बात करते हुए अवध किशोर पवार बताते हैं कि वो जब भी ये देखते या सुनते थे कि एक रिक्शा चलाने वाले के बेटे ने UPSC की परीक्षा के लिए इंटरव्यू दिया है और परीक्षा पास कर ली है, मुझे भी करना है और वो इससे काफी प्रेरित भी होते थे। अवध शुरुआत से ही सिविल सर्विसेज की परीक्षा देना चाहते थे।

IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media
IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media

ऐसे में जब अवध ने देखा कि एक गरीब परिवार का लड़का इस कड़ी परीक्षा को पास कर चुका है तो उन्होंने सोचा मैं क्यों नहीं कर सकता। इन्हीं सब चीजों को देखते हुए अवध ने एक दिन अपनी नौकरी छोड़ दी और UPSC की तैयारियों में लग गए। अवध हिंदी मीडियम बैकग्राउंड से आते हैं। ऐसे में अवध को पढ़ाई के लिए स्टडी मटीरियल को खोजने में काफी मेहनत करनी पड़ती थी। इसके बाद अवध परीक्षा की तैयारी के लिए मुंबई से दिल्ली शिफ्ट हो गए।

IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media
IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media

अवध इस बात को अच्छे से जानते थे कि परीक्षा की तैयारी के दौरान उनको कई मुश्किल चीजों का सामना करना पड़ेगा। इतना ही नहीं अवध ये भी जानते थे कि इस परीक्षा को पास करना इतना आसान नहीं है। ऐसे में उन्होंने पहले से ही एक बैकअप प्लान बना लिया और कई प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए आवेदन करने का निर्णय लिया। अवध ने इस बारे में बताया कि UPSC के क्राइटेरिया के अनुसार एक साल में ये परीक्षा एक ही बार दे सकते हैं।

IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media
IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media

अवध आगे बताते हैं कि अगर कोई परीक्षा पास नहीं होती, तो पूरा साल बर्बाद हो जाता है। इसलिए मैंने अन्य परीक्षाओं के लिए भी अपने स्किल्स को इंप्रूव किया। इतना ही नहीं अवध ने बैंकिंग और राज्य प्रशासन सेवाओं सहित लगभग 40 परीक्षाओं में हिस्सा लिया, जिसमें वह असफल रहे। इसी के साथ चार प्रयासों में UPSC को भी क्लियर नहीं कर पाए थे। इस बारे में अवध ने बताया कि मैं मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के एक ग्रामीण क्षेत्र से आता हूं। जहां नौकरी के लिए गांव के बाहर जाना काफी दूर की बात मानी जाती है। इसलिए सिविल सेवाओं में शामिल होना बहुत बड़ी बात थी।

IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media
IRS Officer Avadh Who Failed 40 Exams Before Cracking UPSC, Photo Credit- Social Media

अवध ने आगे बताया कि छोटे गांव से आने वाले लोग असफलता से डरते नहीं हैं। इसलिए कई परीक्षाओं में फेल होने से मुझे कोई नुकसान नहीं हुआ है। मैंने अपनी कई गलतियों से काफी कुछ सीखा है। इसके बाद जब उन्होंने एक बार फिर परीक्षा दी तो उनकी कड़ी मेहनत रंग लेकर आई और उन्होंने साल 2015 में UPSC परीक्षा में 657 रैंक हासिल की थी। ये उनका पांचवा प्रयास था। अवध उन लोगों के लिए उदाहरण हैं, जो लोग किसी भी परीक्षा में एक बार फेल हो जाने के बाद हार मान जाते हैं।

IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media
IRS Avadh was aware of challenges and at no point was he delusional, Photo Credit- Social Media

अवध बताते हैं कि इस परीक्षा के लिए फोकस जरूरी है, लेकिन मैंने कुछ गलतियां भी कीं। मैंने पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन को एक ऑप्शनल विषय के बजाय एक विषय के रूप में लिया, जिसमें मुझे महारत हासिल थी। किसी ऐसे विषय का चयन करना जो आपने पहले से ही अध्ययन किया है या पसंद है। आपकी पढ़ाई के दबाव को कम कर सकता है। मैं अंत में हिंदी साहित्य में आ गया और अपने पांचवें प्रयास में अखिल भारतीय 657 रैंक हासिल करने में कामयाब रहा।

IRS Avadh and His Wife, Photo Credit- Social Media
IRS Avadh and His Wife, Photo Credit- Social Media

आखिर में अवध कहते हैं कि मैंने अपने चौथे प्रयास तक जनरल स्टडी के लिए किसी भी कोचिंग सेंटर को ज्वाइन नहीं किया था। मैंने सेल्फ स्टडी पर भरोसा किया न कि ऐसे व्यक्ति पर जिनके पास काफी अनुभव है. एक अनुभवी व्यक्ति के गाइड करने से आप अपने अंदर काफी सुधार ला सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here