दुनिया का इकलौता पेंटर जो सिलाई मशीन से बनाता है खूबसूरत पेंटिंग, पीएम मोदी भी है इनके फैन

0
777
Needal man Arun Kumar Story In Hindi

दुनिया में कई लोग ऐसे हैं जिनकी पेंटिंग ( painting ) के दीवाने लाखों-करोड़ों लोग है। आपने कई पेंटरों की तस्वीरें देखी होंगी, जो खूबसूरती के साथ-साथ अनोखी भी होती हैं। ये रंगों की मदद से पेंटिंग में एक नई जान सी डाल देते हैं, लेकिन क्या आपने कभी ऐसे किसी पेंटर के बारे में सुना या जाना है कि जो रंगों या किसी ब्रश से नहीं बल्कि, सिलाई मशीन ( sewing machine ) से पेंटिंग बनाता है।

आज हम आपको एक ऐसे ही पेंटर से रू-ब-रू करवाने जा रहे हैं, जो दुनिया में सबसे अनोखे हैं। इस पेंटर को दुनिया का इकलौता ‘नीडल मैन’ (Needal Man Arun Kumar) कहा जाता है, जो सिलाई मशीन से ऐसी खूबसूरत तस्वीरें बनाते हैं, जिसे देखने के बाद आप भी उनके मुरीद हो जाएंगे।

“नीडल मैन” ने बनाई पीएम मोदी की खूबसूरत तस्वीर

Image Source: Social media

सिलाई मशीन से खूबसूरत तस्वीरें बनाने वाले इस इकलौते शख्स को लोग ‘नीडल मैन’ के नाम से जानते हैं। वैसे इनका नाम अरुण बजाज हैं, जो कि पंजाब के पटियाला के रहने वाले हैं। 35 वर्षीय अरुण ने गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व से पहले सिलाई मशीन से उनकी एक खास तस्वीर बनाई है। वह दुनिया के इकलौते ऐसे कलाकार हैं, जो सिलाई मशीन से अनोखी पेंटिंग बनाते हैं।

Image Source: Social media

इससे पहले भी वो कई बड़ी हस्तियों की तस्वीरें बना चुके हैं। इनमें पीएम नरेंद्र मोदी का नाम भी शामिल है। साल 2017 में जब वो पीएम मोदी से मिले थे तो उन्होंने उनकी तस्वीर बनाकर भेंट की थी। अरुण अपनी अनोखी कला से कई विश्व रिकॉर्ड भी बना चुके हैं। उनके नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड से लेकर यूनीक (अनोखा) वर्ल्ड रिकॉर्ड और यहां तक कि लिम्का वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है।

भगवान कृष्ण की तस्वीर ने बदल दी जिंदगी

Image Source: Social media

अरुण ने भगवान कृष्ण की एक खूबसूरत तस्वीर बनाई थी, जिसके लिए उन्हें कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं। इस तस्वीर को बनाने में उन्हें तीन साल का समय और 28 लाख 36 हजार मीटर धागा मिला था। यह दुनिया की पहली ऐसी तस्वीर थी, जिसे सिलाई मशीन से बनाया गया था और वो भी लाखों धागे से।

पिता की मौत के साथ टूट गया पेंटर बनने का सपना

Image Source: Social media

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, अरुण जब 12 साल के थे तब से ही वो सिलाई कर रहे हैं। उन्होंने बताया था कि उनके पिता एक दर्जी थे, लेकिन जब अरुण 16 साल के थे, तभी उनका देहांत हो गया था। इसके बाद से ही वो अपने पिता की दुकान संभाल रहे हैं। इसके लिए उन्हें अपने स्कूल की पढ़ाई तक छोड़नी पड़ी थी।

Image Source: Social media

अरुण के मुताबिक, वह एक प्रसिद्ध पेंटर बनना चाहते थे, लेकिन उनके पिता की अचानक मौत से उनका यह सपना टूट गया। हालांकि फिर भी उन्होंने अपने अंदर के हुनर को मरने नहीं दिया और आज वो अपने अनोखे हुनर से दुनिया को अपना दीवाना बना रहे हैं।

कठिनाईयों से भरी रही अरुण की जिंदगी

Image Source: Social media

कई विश्व रिकॉर्ड अरुण के नाम दर्ज है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड, यूनीक वर्ल्ड रिकॉर्ड समेत लिम्का वर्ल्ड रिकॉर्ड ( Limca World Records ) में उनका नाम दर्ज है। यही नहीं उन्होंने 3 साल की कड़ी मेहनत और 28 लाख 36 हजार मीटर धागे की मदद से भगवान कृष्ण की एक खूबसूरत तस्वीर बनाई थी। इसके लिए उन्हें कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं। ये दुनिया की पहली तस्वीर थी, जिसे सिलाई मशीन से बनाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here