दुनिया का एकमात्र देश जहाँ नहीं है एक भी मस्जिद, ना ही इसे बनाने की इजाजत है

0
174
Slovakia

हर देश का अपना इतिहास और अपने कानूनी नियम होते हैं, लेकिन आप जानते हैं कि दुनिया में एक ऐसा देश भी है जहां मुस्लिम तो जरूर रहते हैं लेकिन वहां पर एक भी मस्जिद नहीं है। वहां किसी एक शहर में नहीं बल्कि पूरे देश में एक भी मस्जिद नहीं है। इतना ही नहीं उस देश में किसी और को मस्जिद बनाने की भी कोई इजाजत नहीं है। इस देश का नाम है स्लोवाकिया…

history-of-world-slovakia-does-not-allow-any-mosque-in-its-country-or-any-muslim-refugees
social media

बेहद कम है देश में मुस्लिमों का आंकड़ा

स्लोवाकिया में 17वीं सदी से मुस्लिम समुदाय के लोग रहते हैं और आम जीवन जीते हैं। साल 2010 में स्लोवाकिया में मुस्लिमों की आबादी लगभग 5000 के आसपास हो गई थी। वहीं अब यह आंकड़े बढ़ गए है। बात मुस्लिम समुदाय के पूजा स्थल मस्जिद की करें, तो स्लोवाकिया में ना ही कोई मस्जिद है और ना ही वहां किसी को मस्जिद बनाने की इजाजत है।

history-of-world-slovakia-does-not-allow-any-mosque-in-its-country-or-any-muslim-refugees
social media

ना मस्जिद और ना ही बनाने की इजाजत

गौरतलब है कि स्लोवाकिया यूरोपियन यूनियन का सदस्य है, लेकिन ऐसे में वह एकमात्र ऐसा देश है जिसे यूरोपियन यूनियन में सबसे आखरी सदस्यता हासिल की थी। वही देश में मस्जिद को लेकर एक ऐसा विवाद है, जिसके बाद से आज तक राजधानी में कोई मस्जिद नहीं बनी और ना ही वहां पर बनाने की किसी को इजाजत दी गई।

history-of-world-slovakia-does-not-allow-any-mosque-in-its-country-or-any-muslim-refugees
social media

मस्जिद बनाने को लेकर यह विवाद साल 2000 में स्लोवाकिया की राजधानी सेंटर बनाने को लेकर हुआ था। उस दौरान ब्रातिसिओवा के मेयर ने एक बड़ा फैसला लेते हुए स्लोवाकिया इस्लामिक वक्त फाउंडेशन के दायर किए गए सभी प्रस्तावों को खारिज कर दिया गया था।

history-of-world-slovakia-does-not-allow-any-mosque-in-its-country-or-any-muslim-refugees
social media

मुस्लिमों को शरण देने से कर दिया इंकार

Image Source: Social Media

ऐसे में साल 2015 में यूरोप के सामने शरणार्थियों के प्रवास का मुद्दा एक बड़ा संकट बन कर आया। उस समय स्लोवाकिया ने ईसाइयों को रहने के लिए तो शरण दे दी, लेकिन मुस्लिमों को शरण देने से साफ तौर पर इंकार कर दिया। इस दौरान स्लोवाकिया ने कुल 200 ईसाइयों को शरण दी थी।

वही मुस्लिमों को शरण देने के मुद्दे पर सफाई पेश करते हुए स्लोवाकिया के विदेश मंत्रालय ने कहा कि उनके यहां मुस्लिमों की इबादत करने के लिए कोई मस्जिद नहीं है ना ही कोई ऐसी जगह है जहां वह इबादत कर सके। ऐसे में उनके लिए मुस्लिमों को अपने देश में शरण देना समस्याओं को पैदा कर सकता है। हालांकि उनके स्पष्टीकरण पर यूरोपियन यूनियन ने काफी ताना-कशी की थी।

history-of-world-slovakia-does-not-allow-any-mosque-in-its-country-or-any-muslim-refugees
social media

इतना ही नहीं इसके बाद साल 2016 में स्लोवाकिया ने मुस्लिमों को आधिकारिक धर्म का दर्जा देने से भी साफ तौर पर इंकार कर दिया। यह फैसला सरकार ने 30 नवंबर 2016 को पारित किया।

एकलौता ऐसा देश है जो दुनिया में इस्लाम को एक धर्म के रूप में नहीं स्वीकारता है। वहीं यूरोपीय यूनियन ने इस मुद्दे पर स्लोवाकिया पर कई बार दबाव बनाने का प्रयास किया, लेकिन हर बार अपने स्पष्टीकरण के साथ स्लोवाकिया ने इसे मानने से साफ तौर पर इंकार कर दिया।

बेहद अजीब है देश का कानून

Image Source: Social Media

स्लोवाकिया दुनिया भर में इकलौता ऐसा देश है, जहां मस्जिद नहीं है। दरअसल बकौल स्लोवाकिया वहां एक ऐसा कानून है जिसे जानकर आप को बड़ी हैरानी होगी। दरअसल स्लोवाकिया में सुबह 10:00 बजे से लेकर शाम 6:00 बजे तक आप ना ही किसी व्यक्ति से चिल्ला कर बात कर सकते हैं और ना ही कहीं हल्ला-गुल्ला मचा सकते हैं।

ऐसे में यदि आप कानून के इस नियम का उल्लंघन करते पाए जाते हैं, तो स्लोवाकिया की पुलिस आप पर कानूनन कार्रवाई करेगी, जिसके तहत आप को सजा का भुगतान भी भरना पड़ सकता है और जुर्माना भी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here