हरियाणा के स्कूलों में पढ़ाया जाएगा गीता का श्लोक, बच्चे सीखेंगे अच्छे संस्कार: मनोहर लाल खट्टर

0
78
Haryana Cm Manohar Lal Khattar Speak on Geeta Slok Education

हिन्दू धर्म के पवित्र ग्रंथ गीता पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान जनार्दन द्विवेदी ने आरएसएस प्रमुख के साथ मंच साझा किया। इस दौरान उनके साथ भाजपा के कई गणमान्य नेताओ के साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी मौजूद थे। मनोहर लाल खट्टर ने इस दौरान गीता पर अपने विचारो को साझा किया, साथ ही गीता पाठ्यक्रम को लेकर एक बड़ा ऐलान भी किया।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने स्कूलों में गीता पढ़ाने को लेकर बड़ा एलान किया है। उन्होंने कहा है कि स्कूलों के सिलेबस में गीता श्लोक को जोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा है कि छात्र-छात्राओं को अच्छे संस्कार सिखाने के मकसद से सरकार ने यह कदम उठाया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि गीता से ‘जीवन का सार’ सीखा जा सकता है।

प्रख्यात मीडिया संस्थान ABP News वेबसाइट पर प्रकाशित खबरों के अनुसार, मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा, ”हमारी राय है कि गीता के श्लोकों को स्कूल के सिलेबस में शामिल किया जाना चाहिए। हमने पहले भी कहा है, हम गीता के कुछ श्लोकों को पाठ्यक्रम में सारांश के रूप में शामिल करेंगे जिससे बच्चे अच्छे संस्कार सीखें।”

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा- कि गीता “जीवन का सार” है। यह किसी धर्म से जुड़ा नहीं है। आपको बता दे, सीएम खट्टर आज ही ‘गीता महोत्सव’ कार्यक्रम में भाग लेने दिल्ली पहुंचे थे। इस कार्यक्रम में उनके साथ आरएसएस के चीफ मोहन भागवत भी मौजूद थे।

‘गीता महोत्सव’ कार्यक्रम इन दिनों दिल्ली के लाल किले में आयोजित किया गया है। जंहा बिभिन्न दलों व कार्यक्रमों से जुडो लोगो के साथ साथ तमाम राजनैतिक हस्तियां सिरकत कर रही है। लाल किले पर आयोजित इस कार्यक्रम में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला, महिला बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई लोग मौजूद थे। बता दे, कार्यक्रम का आयोजन ‘जीओ गीता’ नाम के संगठन ने करवाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here