बाढ़ में देवदूत बना कांस्टेबल, कंधे पर बिठाकर दो 2 बच्चियों की बचाई जान, लोगों ने कहा हनुमान

0
148
gujarat police constable prithviraj singh

देश के तमाम हिस्सों में भारी बारिश से मची तबाही की तस्वीरें सामने आ रही हैं. इस बीच एक ऐसा भी वीडियो सामने आया है, जो दिखाता है कि इन मुश्किल हालातों में भी कुछ लोग हैं, जो मदद के लिए किसी फरिश्ते की तरह तैयार रहते हैं। इसी बीच गुजरात में बारिश में फंसे बच्चों को बचाने के लिए एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने गजब की दिलेरी का परिचय दिया है। इसके बाद गुजरात पुलिस के सिपाही का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। साथ ही लोग पुलिस कांस्टेबल की जमकर तारीफ़ भी कर रहे है।

मीडिय खबरों के अनुसार, वायरल वीडियो में दिखाई देने बाला सख्स गुजरात पुलिस में कांस्टेबल पद पर तैनात है। जिसका नाम पृथ्वीराज सिंह जाडेजा बताया जा रहा है। खबरों के मुताबिक कांस्टेबल जडेजा उस समय सोशल meediya पर सुर्खियां बन गए, जब उन्होंने बाढ़ में फंसी दो बच्चियों को अपने कंधे पर बैठाकर उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। बताया जा रहा है, ये वीडियो अहमदाबाद से 200 किलोमीटर दूर मोरबी इलाके का है।

देवदूत बना कांस्टेबल

ये तस्वीर गुजरात के मोरबी के टंकारा की है। टंकारा में शुक्रवार और शनिवार को हुई बारिश के बाद वहां के हालात बिगड़ गए। यहां कल्याणपुर के कस्तूरबा गांधी स्कूल में पढ़ाई के लिए सुबह-सुबह बच्चे स्कूल गये थे। तभी बारिश शुरू हो गई और लगातार पांच घंटे तक बादल बरसते रहे। पांच घंटे की बारिश के बाद चारों ओर पानी ही पानी नजर आ रहा था। इस वजह से स्कूल आए बच्चे यहां से नहीं निकल सके।

इसके बाद स्कूल प्रशासन ने तुरंत पुलिस और जिला प्रशासन की मदद मांगी। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस बल वहां पहुंच गया। बच्चों को स्कूल से निकालने के लिए पुलिस की जो टीम पहुंची उसमें कॉन्स्टेबल पृथ्वीराज सिंह भी मौजूद थे। खबरों के मुताबिक, स्कूल में कुल 43 बच्चे फंसे हुए थे। जिला प्रशासन की सहायता के लिए NDRF की टीम को बुलाया गया। बताया जा रहा है, कि एनडीआरएफ की टीम के लिए भी पानी के इस प्रवाह में बोट के जरिये बच्चों को बाहर निकाल पाना मुश्किल साबित हो रहा था।

ऐसे में मौके पर मौजूद गुजरात पुलिस के कांस्टेबल थ्वीराज सिंह जाडेजा ने उफनते पानी के बीच दो बच्चों को अपने कंधे पर उठा लिया और करीब एक कि.मी. तक पैदल चले, उसके बाद दोनों बच्चो को संकट से बाहर निकाला जा सका। कुछ समय पश्चात दोनों बच्चे सुरक्षित स्थान पर पहुँच गए। जिसके बाद लोगो ने उनकी तुलना हनुमान जी से करना सुरु कर दिया, और देखते ही देखते वीडियो वायरल हो गया।

सोशल मीडिया पर हुई जमकर तारीफ़

कंधे पर बच्चियों को बैठाए हुए कांस्टेबल की तुलना कुछ लोग हनुमान जी से कर रहे हैं। हनुमान भी इसी तरह भगवान श्रीराम और लक्ष्मण अपने कंधे पर बैठाकर उन्हें सुग्रीव से मिलाने के लिए ऋष्यमूक पर्वत ले गए थे। इस कॉन्स्टेबल की दिलेरी का वीडियो गुजरात पुलिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर डाला है। इससे प्रदेश के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कांस्टेबल पृथ्वीराज जाडेजा से फोन पर बात करते हुए उसका अभिनंदन किया। साथ ही उन्होंने इसका वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया।

इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने इस पुलिसकर्मी की बहादुरी की प्रशंसा की। उन्होंने लिखा- ‘पुलिस कांस्टेबल पृथ्वीराजसिंह जडेजा कड़ी मेहनत, दृढ़ संकल्प और सरकारी अधिकारी के समर्पण के कई उदाहरणों में से एक हैं, जो प्रतिकूल परिस्थितियों में भी कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं।’

इसके बाद सोशल मीडिया पर कई बड़ी हस्तियों ने कांस्टेबल की तारीफ़ की, जिसमे पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण ने भी कांस्टेबल जडेजा के ‘अनुकरणीय समर्पण और साहस’ की सराहना करते हुए लिखा- ‘गुजरात के कल्याणपुर गांव में कांस्टेबल पृथ्वीराज सिंह जडेजा का एक अद्भुत और दिल को छू लेने वाला वीडियो। बाढ़ के पानी में डेढ़ किलोमीटर पैदल चलकर 2 बच्चों को बचा रहे हैं। उनके अनुकरणीय समर्पण और साहस को सलाम।’

बता दें पिछले गुजरात के कई इलाकों में 24 घंटों से लगातार हो रही बारिश से कम से कम 11 लोगों की जान जा चुकी है। पिछले हफ्ते वड़ोदरा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर भारी बारिश के कारण बचाव कार्य रोक दिया गया था। लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के लिए फिलहाल बचाव अभियान जारी है। अब तक लगभग 6,000 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here