दान में मिले पैसो से फटाफट खोल लिया था रेस्टोरेंट, फिर फुटपाथ पर आया ‘बाबा का ढाबा’

0
630

बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba): चलाने वाले कांता प्रसाद कभी सोशल मीडिया पर काफी मशहूर हुए थे। उनकी इतनी चर्चा हुई थी कि उनके ढाबे पर खाना खाने वालों की लाइन लग गई थी। पिछले साल बाबा सोशल मीडिया पर गजब छाए। यू-ट्यूबर गौरव वासन ने उनकीमुफलिसी का वीडियो बनाया जो खूब वायरल हुआ और दिलवालों की दिल्ली उनकी मदद के लिए दौड़ी चली आई, बाबा का ढाबा चल पड़ा।

Image Source: DNA

बाबा यानी कांता प्रसाद को दान में पैसे भी खूब मिले। जी हां, कांता प्रसाद ने लोगों से मदद मिलने के बाद पिछले ही साल दिसंबर के महीने में अपना एक रेस्टोरेंट खोल लिया था।

रेस्टोरेंट से फिर आये सड़क किनारे

ढाबे में जहां कांता प्रसाद और उनकी पत्नी खुद खाना बनाते थे, वहीं रेस्टोरेंट में वो काउंटर पर बैठने लगे। दो रसोइए और एक वेटर काम कर रख लिए।शुरू में रेस्टोरेंट चला भी, लगा कि बाबा ने दिन फिर गए। लेकिन शुरुआती उत्साह के बाद कस्टमर धीरे-धीरे कम होते चले गए। खर्च बढ़ता चला गयाऔर आमदनी कम होती गई।

न्यूज एजेंसी ‘ANI’ के मुताबिक कांता प्रसाद को अब अपना यह रेस्टोरेंट बंद करना पड़ा है। कांता प्रसाद ने कहा कि ‘1 लाख रुपए निवेश करने के बाद सिर्फ 35,000 रुपए की कमा सकें। इसी वजह से रेस्टोरेंट को बंद करना पड़ा है। कांता प्रसाद ने कहा कि मैं अब अपने पुराने ढाबे को चलाकर ही खुश हूं। मैं जब जिंदा रहूंगा तब तक यह ढाबा चलाऊंगा।

भारी नुकसान का नतीजा ये हुआ कि कांता प्रसाद को अपना रेस्टोरेंट बंद करना पड़ा। बाबा कहते हैं कि उन्हें रेस्टोरेंट खोलने की गलत सलाह दी गई और उन्हें काफी घाटा सहना पड़ा।

Image Source: India TV

आपको याद दिला दें कि पिछले ही साल अक्टूबर में बाबा का ढाबा वाले कांता प्रसाद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here